BSC fashion designing क्या है | कैसे करे इसकी तैयारी || जाने योग्यता, जॉब और सैलरी

हेलो दोस्तों स्वागत है आपका हमारे इस नए टॉपिक bsc fashion designing में, आज के इस पोस्ट में हम आपको bsc fashion designing की पूरी प्रक्रिया के बारे में विस्तार से बतायेंगे। यदि आप भी bsc fashion designing कोर्स करना चाहते है तो आप भी इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़े।

Bachelor of fashion designing in hindi ऐसे लोगों के लिए एक उपयोगी कोर्स है जो फैशन ट्रेंड्स को पढ़ना चाहते हैं सभी नए और रेवोल्यूशनरी ट्रेंड के साथ-साथ पुराने ट्रेंड को भी नए रूप से दिखाना फैशन है इंप्रेसिव ड्रेस और एसेसरीज बनाने के लिए नई शैलियों और डिजाइनों को तैयार करना फैशन डिजाइनिंग के अंतर्गत ही आता है

यदि आप भी इस क्षेत्र में कैरियर बनाना चाहते हैं तो बैचलर ऑफ फैशन डिजाइनिंग एक बहुत ही अच्छा कोर्स है तो चलिए आपको Bachelor of fashion designing in hindi कोर्स क्या है इसके स्किल सिलेबस साथ ही कैरियर के विकल्पों के बारे में आपको विस्तार पूर्वक बताते हैं।

Table of Contents

बैचलर ऑफ़ फैशन डिजाइनिंग (bsc fashion designing) क्या है

Bachelor of fashion designing  बैचलर ऑफ़ फैशन डिजाइनर (डीएफडी) फैशन डिजाइनिंग में एक अंडरग्रैजुएट डिग्री कोर्स है संस्था के आधार पर कोर्स की अवधि तीन या चार वर्ष की होती है बैचलर ऑफ फैशन डिजाइनिंग कोर्स छात्रों को फैशन उपयोग की समग्र समझ के लिए के साथ-साथ डिजाइनिंग के तरीके और तकनीक के बारे में शिक्षा दी जाती है जिसमें इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग भी होती है

BSC fashion designing

इसके अलावा इस डिग्री प्रोग्राम में फैशन डिजाइनिंग विषयों की एक विस्तृत श्रृंखला शामिल होती है जैसे फैब्रिक साइंस एंड एनालिसिस फैशन आर्ट एंड डिज़ाइन, विज़ुअल मर्चेंडाइजिंग, टेक्सटाइल डिज़ाइन, टेक्सटाइल्स का इतिहास, पैटर्न मेकिंग, फैशन मार्केटिंग और मर्चेंडाइजिंग आदि

बैचलर ऑफ फैशन डिजाइनिंग क्यों करें

Bachelor of fashion designing in hindi कोर्स क्यों करें इसके कुछ लाभ नीचे दिए गए हैं

  • बैचलर ऑफ़ फैशन डिजाइनिंग एक ऐसा कोर्स है जो आर्ट नहीं बल्कि विज्ञान कॉमर्स एग्रीकल्चर सहित अन्य सभी स्ट्रीम के छात्रों को कोर्स करने का अवसर देता है
  • यह कोर्स उन छात्रों के लिए बेस्ट है जिनके पास रचनात्मक दिमाग और फैशन सेंसिबिलिटी होती है
  • यह कोर्स छात्रों को सभी क्रिएटिविटी और एंटरप्रेन्योर स्किल के बारे में बताया जाता है जो उन्हें फैशन उद्योग में रोजगार के लिए एक आदर्श उम्मीदवार बनाता है
  • यह कोर्स छात्रों को एक डिग्री देता है जो उन्हें अपना खुद का फैशन हाउस खोलने की परमिशन दिलाता है इसके जरिए वह अपने फैशन क्रिएटिविटी का भरपूर उपयोग और प्रदर्शन को कर सकते हैं
  • हमेशा बदलने वाला फैशन उद्योग अवसरों से भरा हुआ है इस कोर्स को सफलतापूर्वक पूरा करने के पश्चात छात्र विभिन्न जॉब प्रोफाइल के माध्यम से फैशन उद्योग में शामिल होने के अवसर प्राप्त कर सकते हैं यह नौकरी की संभावनाएं और शानदार वेतन पैकेज को भी देती है
  • यह कोर्स भविष्य में फैशन के क्षेत्र में उन्नत अध्ययन और फीचर जैसे करियर को संभावनाओं को भी खोलना है छात्र अपनी एचडी या शोध करने से पहले इस क्षेत्र में मास्टर डिग्री को हासिल कर सकते हैं वह विदेश में भी पढ़ या कार्य कर सकते हैं

बैचलर ऑफ फैशन डिजाइनिंग के लिए अवसर स्किल्स

Bachelor of fashion designing बैचलर ऑफ फैशन डिजाइनिंग के लिए आवश्यक स्किल यह है

  • उत्कृष्ट रचनात्मक कौशल
  • ओरिजिनलिटी और इनोवेशन
  • विस्तार पर ध्यान
  • रंग विषयों का ज्ञान और विभिन्न त्वचा टोन के लिए उनकी उपयुक्तता
  • फैशन डिजाइनिंग सॉफ्टवेयर का ज्ञान
  • विजुअल इंटेलीजेंस
  • ग्लोबल फैशन इंडस्ट्री का मूलभूत ज्ञान
  • संचार कौशल

बैचलर ऑफ़ फैशन डिजाइनिंग इन हिंदी के विषय और सिलेबस

Bachelor of fashion designing बैचलर ऑफ फैशन डिजाइनिंग के विषय और सिलेबस नीचे सूची में दी गई है

एनालिटिकल ड्राइंग कलर मिक्स फैशन स्टडीज नेचर इलस्ट्रेशन
बेसिक कम्प्यूटर स्टडीज बॉडी स्ट्रक्चर हिस्ट्री ऑफ कॉस्ट्यूम्स फ्री हैंड ड्राइंग
ज्योमेट्रिक कंस्ट्रक्शन गारमेंट मैन्युफैक्चरिंग ग्रेडिंग निटवियर
आर्ट अप्रिशिएशन डिजाइन प्रॉसेस इंग्लिश कम्युनिकेशन पैटर्न मेकिंग
फैब्रिक डाइंग एंड प्रिंटिंग फैशन फोरकास्ट एलिमेंट्स ऑफ क्लॉथ्स स्टाइल
क्लॉथिंग मैन्युफैक्चरिंग मेथड्स इंट्रोडक्शन टू पैटर्न मेकिंग एंड गारमेंट मैन्युफैक्चरिंग टाइटली टेक्सटाइल डिजाइनिंग
बेसिक फ़ोटोग्राफी डिज़ाइन एलिमेंट्स लेदर डिजाइन पर्सपेक्टिव डिजाइन
क्रिएटिव ज्वेलरी कम्प्यूटर एडेड डिजाइन फैशन इलस्ट्रेशन एंड डिजाइन फोटोग्राफी
फैशन हिस्ट्री करेंट ग्लोबल फैशन ट्रेंड्स प्रोडक्शन टेक्नोलॉजी सर्फेस डेवलपमेंट डिजाइन

 

बैचलर ऑफ फैशन डिजाइनिंग के लिए भारत के टॉप यूनिवर्सिटीज

बैचलर ऑफ़ फैशन डिजाइनिंग (bsc fashion designing) के लिए भारत के टॉप यूनिवर्सिटी एवं कॉलेज के नाम

  • एनएमआईएमएस मुंबई
  • एसआरएम विश्वविद्यालय
  • लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी
  • शारदा विश्वविद्यालय
  • मणिपाल टेक्नोलॉजी इंस्टीट्यूट
  • अंसल विश्वविद्यालय
  • एमिटी विश्वविद्यालय
  • जीडी गोयनका विश्वविद्यालय
  • पीईएस विश्वविद्यालय
  • मेवाड़ विश्वविद्यालय

बैचलर ऑफ फैशन डिजाइनिंग के लिए योग्यता

बैचलर ऑफ फैशन डिजाइनिंग (bsc fashion designing) के लिए कुछ सामान योग्यताएं नीचे बताए गए हैं

BSC fashion designing

  • बैचलर ऑफ़ फैशन डिजाइनिंग के लिए आपको किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं पास किया हुआ होना चाहिए
  • भारत के कुछ कॉलेज यूनिवर्सिटी अपने स्वयं के प्रवेश परीक्षा के करती है विदेश में इन कोर्सों के लिए यूनिवर्सिटी द्वारा निर्धारित आवश्यक ग्रेड आवश्यकताओं को पूर्ण करना आवश्यक होता है जो हर यूनिवर्सिटी और कोर्स के अनुसार अलग-अलग होता है

बैचलर ऑफ फैशन डिजाइनिंग के लिए आवेदन की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको अपने पसंदीदा यूनिवर्सिटी की ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन करना होगा
  • रजिस्ट्रेशन के बाद आपको एक यूजर नाम और पासवर्ड मिलेगा
  • फिर वेबसाइट में आपको साइन इन करने के बाद आपको अपने कोर्स को चुनना होगा जिस कोर्स को आप करना चाहते हैं
  • फिर आपको अपने शैक्षणिक योग्यता वर्ग के साथ फॉर्म को भरना होगा
  • इसके बाद आपको फॉर्म को सबमिट करना होगा और जो भी आवेदन शुल्क होगी उसका भुगतान करना होगा
  • यदि एडमिशन प्रवेश परीक्षा के आधार पर होता है तो पहले प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करें और फिर रिजल्ट के बाद काउंसलिंग की प्रतीक्षा करें
  • प्रवेश परीक्षा के अंकों के आधार पर आपका चयन किया जाएगा और लिस्ट को जारी किया जाएगा

बैचलर ऑफ फैशन डिजाइनिंग के लिए प्रवेश परीक्षा

बैचलर ऑफ़ फैशन डिजाइनिंग (bsc fashion designing) में प्रवेश परीक्षा के लिए छात्रों का प्रदर्शन के आधार पर दिया जाता है कुछ लोकप्रिय प्रवेश परीक्षाएं निम्न है

  • AIEED: आर्ट एकेडमी का डिजाइन या AIEED के लिए अखिल भारतीय परिषद प्रवेश परीक्षा करती है AIEED पास करके उम्मीदवार AIEED अकैडमी आफ डिजाइन में एडमिशन ले सकता है
  • CEED: डिजाइन या सीड के लिए सामान्य प्रवेश परीक्षा उन छात्रों के लिए कराई जाती है जो भारत के कुछ सिर्फ फैशन संस्थानों में प्रवेश चाहते हैं
  • DAT: जीडी गोयंका यूनिवर्सिटी और नेशनल इंस्टीट्यूट आफ डिजाइन के साथ कुछ सिर्फ म्यूजिक फैशन संस्थानों में डिजाइन एप्टीट्यूड टेस्ट या DAT आयोजित किया जाता है
  • NIFT: नेशनल फैशन टेक्नोलॉजी इंस्टिट्यूट निफ्ट प्रवेश परीक्षा को आयोजित करता है इस परीक्षा को पास करने के बाद इच्छुक छात्र रैंक के अनुसार पूरे भारत में किसी भी नियुक्त परिसर में प्रवेश ले सकते हैं
  • IIAD: इंडियन आर्ट एंड डिजाइन इंस्टिट्यूट बैचलर ऑफ फैशन डिजाइन में प्रवेश के लिए IIAD प्रवेश परीक्षा करता है एक बार योग्य होने पर उम्मीदवार IIAD में प्रवेश आसानी से ले सकता है

बैचलर ऑफ फैशन डिजाइनिंग के लिए महत्वपूर्ण किताबें

बैचलर फैशन डिजाइनिंग (bsc fashion designing) के लिए कुछ महत्वपूर्ण किताबें यह है

  • Patternmaking for Fashion | Fifth Edition | By Pearson
  • Fashion Illustration and Design: Methods & Techniques for Achieving Professional Results By Manuela Brambatti
  • Fashion Illustration: Inspiration and Technique by Anna Kiper
  • Techniques of Drafting And Pattern Making: Garments for Kids and Adolescents by Padmavati B.3

इसे भी पढ़े- ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग क्या है

बैचलर ऑफ फैशन डिजाइनिंग के बाद करियर

बीएफडी (bsc fashion designing) के बाद का करियर के बेस्ट विकल्प

बैचलर फैशन डिजाइनिंग के बाद नौकरी

  • बीएफडी का सबसे अच्छा हिस्सा यह है कि वह छात्रों को अत्यधिक लचीलापन और बहुमुखी प्रतिभा देते हैं और बाद में उन्हें कई क्षेत्रों में रोजगार भी प्राप्त करने में मदद मिलती है इस कोर्स करने के पश्चात आप किसी भी फैशन फर्म या फैशन डिजाइनर के रूप में कार्य कर सकते हैं

उच्च शिक्षा का विकल्प

  • उच्च अध्ययन के लिए इच्छुक छात्र इस क्षेत्र में एमएफडी या पीएचडी की भी डिग्री को अर्जित कर सकते हैं मास्टर ऑफ फैशन डिजाइनिंग कोर्स करने के पश्चात आप एक विशिष्ट फैशन डिजाइनर के रूप में कार्य कर सकेंगे इसके बाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी आपके पास काम करने का सुनहरा अवसर भी प्रदान होता है
  • इस कोर्स को करने के पश्चात आप स्वयं का फैशन हाउस भी खोल सकते हैं

बैचलर ऑफ फैशन डिजाइनिंग कोर्स के बाद जॉब और वेतन

BSC fashion designing

बैचलर ऑफ फैशन डिजाइनिंग (bsc fashion designing) कोर्स को पूरा करने के पश्चात ग्रेजुएशन फैशन और टेक्सटाइल उद्योग में करियर के व्यापक अवसरों का पता लगाया जा सकता है कुछ प्रमुख जॉब प्रोफाइल और PayScale के माध्यम से उनकी औसत वार्षिक वेतन यह है

जॉब प्रोफाइल भारत में वेतन (INR में)
विजुअल मर्चेंडाइजर 3-5 लाख
मर्चेंडाइजर 2-5 लाख
फैशन डिजाइनर 2-6 लाख
सोशल मीडिया मार्केटिंग मैनेजर 2-6 लाख
मार्केटिंग मैनेजर 5-10 लाख
यूजर एक्सपीरियंस डिजाइनर 3-5 लाख
ग्राफिक डिजाइनर 3-5 लाख

FAQs

फैशन डिजाइनर (Bachelor of fashion designing in hindi) का सबसे अच्छा कोर्स कौन सा है?

बाजार फैशन डिजाइनिंग कोर्स छात्रों के फैशन उद्योग की समग्र समझ के साथ डिजाइनिंग के तरीके तकनीक और टेक्नोलॉजी के बारे में भी बताया जाता है जिसमें औद्योगिक प्रशिक्षण भी शामिल होता है

फैशन डिजाइनिंग के लिए कौन सी पढ़ाई करनी पड़ती है?

बैचलर ऑफ फैशन डिजाइन या डीएफडी फैशन डिजाइनिंग में एक अंडरग्रैजुएट कोर्स है संस्था के आधार पर कोर्स की अवधि 3 से 4 वर्ष की होती है यह कोर्स करके आप एक फैशन डिजाइनर बन सकते हैं

फैशन डिजाइनर बनने के लिए कितने वर्ष का समय लगता है?

फैशन डिजाइनर बनने के लिए तीन या चार वर्ष का डिजाइनिंग कोर्स करना होता है इसके बाद आप एक फैशन डिजाइनर बन सकते हैं

1 thought on “BSC fashion designing क्या है | कैसे करे इसकी तैयारी || जाने योग्यता, जॉब और सैलरी”

Leave a Comment